MBBS Docter Kaise Bane - MBBS डॉक्टर कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी

MBBS Docter Kaise Bane - MBBS डॉक्टर कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी 


हेलो दोस्तों, MBBS डॉक्टर कैसे बने, कुछ लोग ऐसे होते हैं जो बचपन को एक ही सपना मन में दबा कर रखते हैं वह एमबीबीएस डॉक्टर बनना. उनका बचपन से दिमाग में बैठा लेते हैं कि किसी भी तरह मुझे डॉक्टर बनना है. डॉक्टर में भी कई सारे प्रकार की डॉक्टर होते हैं उनमें से MBBS इन सब से बढ़िया है.


MBBS Docter Kaise Bane - MBBS डॉक्टर कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी



बड़े शहर में लगभग हर गली में हमको अच्छा डॉक्टर मिलता है लेकिन छोटे गांव में डॉक्टर मिलना बहुत मुश्किल होते हैं जो भी डॉक्टर होते हैं. वह ज्यादा अच्छे नहीं होते या फिर कुछ और होता है. इसलिए छोटे शहर के लिए एमबीबीएस डॉक्टर की संख्या कम है. डॉक्टर बनने के बाद Small गांव में जाकर हॉस्पिटल खोलना इससे बहुत सारे गरीब और असाइए लोगों को सेवा मिलेगी. 

MBBS डॉक्टर होना इतना भी आसान नहीं जितना लोग सोचते इसके लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. ज्यादा मेहनत और बहुत सारी फीस होने की वजह से काफी लोग इसे छोड़ कर जाते हैं, लेकिन इसमें आप मेहनत करके गवर्नमेंट कॉलेज में नंबर लगाते हैं तो आप बहुत ही कम फीस में एडमिशन ले सकते हैं. 


MBBS नंबर लगाने के लिए सबसे पहले कहां पर Admission ले


अगर आपका 10th परीक्षा पास है इसके बाद आप 11th और 12th के लिए अच्छे से कॉलेज में नंबर लगाएं जहां पर आर्ट, कॉमर्स, साइंस इनमें से Science के लिए एडमिशन लेना है.


Science के लिए एडमिशन होने के बाद, डॉक्टर बनने की और MBBS बनने की तैयारी शुरू हो जाती है, Physics (भौतिक), Chemistry (रसायन विज्ञान), Biology (जीव विज्ञान), इन सभी Subject की पढ़ाई करनी होती है.

11th और 12th यह दोनों वर्ष के Syllabus की पढ़ाई करनी है. दोनों साल के सिलेबस का स्टडी करने के बाद Entrance Exam होती है. जिनमें से कुछ इस तरह के Exam है, NEET, AIMEE, AIPMT यहां पर सबसे इंपॉर्टेंट NEET की एग्जाम क्रैक करनी है, 180 Question होते हैं जो 720 मार्क की होती है. यहां से एमबीबीएस कॉलेज में एडमिशन मिलेगा.


MBBS का फुल फॉर्म क्या है

BACHELOR OF MEDICINE AND BACHELOR OF SURGERY 

MBBS का हिंदी में फुल फॉर्म क्या है

चिकित्सा स्नातक और शल्य चिकित्सा स्नातक


डॉक्टर बनने के कौन-कौन से कोर्स होते हैं


MBBS के तरह अलग-अलग डॉक्टर के कोर्स है नीचे हमने लिस्ट दी है.

MBBS
BDS
BAMS
BHMS
BUMS
BPT (Physiotherapy)


इन सभी कोर्स में से किसी एक में भी Specialisation कर सकते हैं. सभी कोर्स के अलग-अलग Exam होते हैं, यहां से आपका नंबर लगना चाहिए.


MBBS डिग्री क्या है


हमने ऊपर देखा कि MBBS ऐडमिशन लेने के लिए सबसे पहले कौन सी पढ़ाई करनी है, कौन से सब्जेक्ट लेने हैं, एमबीबीएस डिग्री यानी कि डिग्री खत्म होने के बाद सामने यानी कि आपके नाम के आगे डॉक्टर (Dr.) पदवी लगती है. जैसे कि Dr. Ashok Seth यह भारत के सबसे बड़े एमबीबीएस डॉक्टर में से गिने जाते हैं. 

एमबीबीएस डिग्री मिलने के बाद प्राइवेट हॉस्पिटल, सरकारी हॉस्पिटल, या फिर खुद का हॉस्पिटल खोल सकते हैं.

एमबीबीएस डिग्री 4 साल 6 महीने की होती है और लास्ट का 1 साल में इंटरशिप होती है. इंटर्नशिप के बाद एमबीबीएस की डिग्री मिलेगी और वहां से आप डॉक्टर बन जाओगे.



MBBS डॉक्टर की तैयारी कैसे करें


Collage के साथ आप प्राइवेट ट्यूशन क्लास भी लगा सकते हैं, जिनमें से आपको बहुत ही अच्छी तरीके से बढ़ाया जाता है हर Sunday Exam भी होती है. दोस्तों एमबीबीएस डॉक्टर बनना आप जितना सोचते हैं उतना आसान नहीं है यहां पर कड़ी मेहनत करनी पड़ती है.

ट्यूशन और कॉलेज का टाइम कौन से बजे हैं यह सब का टाइम टेबल बनाकर फिजिक्स केमिस्ट्री बायोलॉजी के लिए हर रोज आपके डेली रूटीन के हिसाब से Timetable बना कर लीजिए और हर Sunday प्रत्येक Subject का exam दीजिए यहां से पता चलेगा कि आपने पूरे हफ्ते में किस चीज की पढ़ाई की है और आपको कितना आ रहा है और क्या करना चाहिए.

पूरे साल का टाइम टेबल में हर एक Chapter को चार-पांच दिन देने जरूरी है. पूरे दिन के हिसाब से आपकी पढ़ाई 10 घंटे होनी चाहिए कुछ पढ़ाई कॉलेज में और कुछ घर आने के बाद Self Study बहुत इंपॉर्टेंट है. 

एक बात ध्यान में रखें सिर्फ Study करने से कुछ नहीं होता Questions solve किस तरह किया गया है, इसका कैसे Answer देना चाहिए यह भी आपको अच्छी तरीके से देखना होगा. कुछ लोग पढ़ाई करते हैं लेकिन उनको क्वेश्चन सॉल्व करने की आदत नहीं रहती इसलिए उनका नंबर इन MBBS के लिए नहीं लगता. आप जितना ज्यादा question solve करेंगे उतनी ज्यादा आपकी प्रैक्टिस होगी. 


Previous
Next Post »